Amartya Sen Biography in Hindi | अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन की जीवनी

Amartya Sen Biography in Hindi | अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन की जीवनी

Amartya Sen Biography in Hindi

प्रसिद्ध भारतीय अर्थशास्त्री , नोबेल पुरुस्कार और भारत रत्न से सम्मानित अमर्त्य सेन (Amartya Sen) का जन्म 3 अक्टूबर 1933 को शान्ति निकेतन (बंगाल) में हुआ था | उनके पिता का नाम आशुतोष सेन था | शान्ति निकेतन में आरम्भिक शिक्षा प्राप्त करने के बाद अमर्त्य सेन ने कोलकाता विश्वविद्यालय से बी.ए. की परीक्षा उत्तीर्ण की | आगे के अध्ययन के लिए वे इंग्लैंड गये | वहा उन्होंने कैब्रिज से एम.ए. और पी-एच .डी. की उपाधियाँ अर्जित की |

शिक्षा पुरी करने के बाद अमर्त्य सेन (Amartya Sen) भारत वापस आये और जोधपुर विश्वविद्यालय में अर्थशास्त्र के प्रोफेसर नियुक्त हुए | 1963 से 1971 तक उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ़ इकोनोमिक्स में अध्यापन किया | फिर शोध संबधी अधिक सुविधाए देखकर वे इंग्लैंड और अमेरिका के अनेक विश्वविद्यालयो में काम करते रहे | भारत ही नही , सम्पूर्ण एशिया में अर्थशास्त्र में नोबेल पुरुस्कार प्राप्त करने वाले अमर्त्य सेन पहले व्यक्ति थे |

अब तक अर्थशास्त्री प्राय: अधिक लाभ कमाने के उपायों की खोज पर बल दिया करते थे | अमर्त्य सेन्न (Amartya Sen) अर्थशास्त्र के कल्याणकारी पक्ष की ओर ध्यान दिलाया | यह एक नई दिशा थी | इस विषय पर उन्होंने लगभग दो दर्जन पुस्तको की रचना की है | वे विदेशो की शिक्षण संस्थाओ में काम कर रहे है पर उन्होंने अपनी भारत की नागरिकता सुरक्षित रखी है और समय समय पर भारत आते रहते है | उन्होंने यहा की आर्थिक समस्याओं के समाधान के अनेक उपाय सुझाए है |

Leave a Reply