Charlie Chaplin Biography in Hindi | चार्ली चैपलिन की जीवनी

1
2577
Charlie Chaplin Biography in Hindi | चार्ली चैपलिन की जीवनी
Charlie Chaplin Biography in Hindi | चार्ली चैपलिन की जीवनी

चार्ल्स स्पेन्सर चैपलिन (Charlie Chaplin) दुनिया के महानतम अभिनेता थे | चार्ली न सिर्फ अच्छे अभिनेता बल्कि अच्छे इंसान भी थे | 16 अप्रैल 1889 को ब्रिटेन में पैदा हुए और अमेरिका में जाकर दुनिया भर में मशहूर हुए चार्ल्स (Charlie Chaplin) ने घोर गरीबी देखी | माता-पिता को अलग होते हुए देखा | भूख और बदलते रिश्तेदारों को देखा | घर के लगातार बदलते पते देखे | इन तमाम परिस्थितियों के बावजूद यह महान कलाकार दूखी लोगो कोइ होंठो पर हँसी खिलाने के लिए अभिनय करता रहा | चार्ली ने अपने दुःखो की बात करते हुए भी कहा था “मुझे बारिश में भीगना अच्छा लगता है क्योंकि तब कोई भी मेरे आँसू नही देख सकता है ”

पांच-छह साल की छोटी उम्र में जब बच्चे खेलने-कूदने में व्यस्त होते है इस महानतम कलाकार ने उस समय कॉमेडी करके अपनी अनोखी अदाओं से दर्शको को लोटपोट करना शूरू कर दिया था | चार्ली (Charlie Chaplin) ने अपने घर को ही कॉमेडी की पाठशाला और अपने माता-पिता को ही अपना गुरु बनाया | इनके माता-पिता दोनों ही अपने जमाने के अच्छे गायक और स्टेज के प्रसिद्ध कलाकार थे | एक दिन अचानक एक कार्यकम में उनकी माँ के तबीयत खराब होने की वजह से उनकी आवाज चली गयी | थिएटर में बैठे दर्शको द्वारा फेंकी कुछ वस्तुओ से वह बुरी तरह घायल हो गयी | उस समय बिना पल की देरी किये इस नन्हे बालक ने थोडा घबराते हुए , लेकिन मन में दृढ़ विश्वास लिए अकेले ही मंच पर जाकर अपनी कॉमेडी के डीएम पर सारे शो को सम्भाल लिया | उसके बाद चार्ली चैपलिन (Charlie Chaplin) ने जीवन में कभी पीछे मुडकर नही देखा |

चार्ली (Charlie Chaplin) एक सफल हास्य अभिनेता होने के साथ साथ फिल्म निर्देशक और अमेरिकी सिनेमा के निर्माता और संगीतज्ञ भी थे | चार्ली ने बचपन से लेकर 88 वर्ष की आयु तक अभिनय , निर्देशक ,पटकथा , निर्माण और संगीत की सारी जिम्मेदारियो को बखूबी निभाया | चार्ली अपने युग के सबसे रचनात्मक और प्रभावशाली व्यक्तियों में से एक थे | उन्होंने सारी उम्र सादगी को अपनाते हुए कॉमेडी को ऐसी बुलन्दियो तक पहुचा दिया , जिसे आज तक दूसरा कलाकार छु भी नही पाया |

चार्ली न Sherlock Holmes के निर्माण के दौरान एक Page Boy की भूमिका के साथ अपने अभिनय जीवन की शुरुवात की | फिर वह नाट्यमंडली केसीज कोर्ट सर्कस में काम करने लगे थे | सन 1908 में वे Fred Karno company में शामिल हो गये और पियक्कड़ का अभिनय करते हुए उन्होंने दर्शको का दिल जीत लिया था | ट्रूप के साथ चार्ली जब अमेरिका में कार्यक्रम पेश कर रहे थे तो उनके अभिनय से प्रभावित होकर फिल्म निर्माता मैक सीनेट ने उनके साथ अनुबध किया , जिसके तहत उन्हें हफ्ते 150 डॉलर मिलने वाले थे |

सन 1914 में Making A Living नामक फिल्म में चार्ली ने पहली बार अभिनय किया | उन्होंने लिटिक ट्रम्प के किरदार को पर्दे पर साकार करने का निश्चय किया | और इसमें उन्हें अपार लोकप्रियता मिली | अगले वर्ष उन्होंने 35 फिल्मो में अभिनय किया | सन 1915 में चार्ली ने सेनेट की कम्पनी छोड़ दी और एसने कम्पनी के साथ काम करने लगे | यह कम्पने उन्हें हर हफ्ते 1250 डॉलर का भुगतान कर रही थी | चार्ली ने इसी दौरान अपने भाई सिडनी को बिजनस मैनजेर नियुक्त किया | इस कम्पनी के साथ चार्ली (Charlie Chaplin) ने पहले साल 14 फिल्मो में काम किया , जिसमे the Tramp को क्लासिक का दर्जा प्राप्त है |

26 साल की उम्र तक चार्ली (Charlie Chaplin) सुपर स्टार बन चुके थे | अब वे 6 लाख 70 हजार सालाना पैकेज के साथ म्यूच्यूअल कम्पनी की फिल्मो में अभिनय करने लगे थे | चार्ली (Charlie Chaplin) ने डगलस फेचरबैक्स के साथ मिलकर United Artist Company की स्थापना की | बीस के दशक में उनकी अविस्मरणीय फिल्मो का निर्माण हुआ जिसमे The Kid , The Pilgrim , Women in Paris और The Gold Rush जैसी फिल्मे शामिल है |

चार्ली (Charlie Chaplin) ने 1918 में 16 वर्षीय अभिनेत्री मिन्द्रेड हैरिस के साथ शादी की | यह शादी दो साल तक ही टिक पाई | सन 1924 में उन्होंने एक ओर 16 वर्षीय अभिनेत्री लिटा ग्रे से शादी की | लिटा ग्रे ने दो पुत्रो (चार्ल्स जूनियर और सिडनी) को जन्म दिया | दाम्पत्य जीवन सुखद नही रह पाया और सन 1927 में दोनों अलग हो गये | सन 1936 में चार्ली ने तीसरी शादी पोलेट गोदार्द से की | सन 1942 तक दोनों साथ रहे | उसी दौरान एक अभिनेत्री जॉन बैरी ने चार्ली पर मुकदमा कर आरोप लगाया कि वे उसके पुत्र के पिता थे | मेडिकल जांच में यह बात सिद्ध नही हुयी , फिर भी अदालत ने बैरी के भरनपोषण का खर्च चुकाने का आदेश चार्ली को दिया |

सन 1943 में चार्ली ने 18 वर्षीय उना ओ नील से शादी की | यह शादी खुशहाल साबित हुयी | उना न आठ संतानों को जन्म दिया | उन्होंने Citylight , The Great Dictator आदि श्रेष्ट फिल्मो का सृजन जारी रखा | द्वीतीय विश्व युद्ध के बाद अमेरिका के कम्यूनिस्टो के खिलाफ अभियान शुरू हो गया और चार्ली को भी निशाना बनाया गया | सन 1952 में जब चार्ली छुट्टिया मनाने ब्रिटेन गये थे उसी समय उनके अमेरिका लौटने पर पाबंदी लगा दी गयी | चार्ली (Charlie Chaplin) स्विटजरलैंड के वेवी नामक स्थान पर फ़ार्म में रहने लगे | जीवन के अंतिम दिनों में विशेष अकादमी पुरुस्कार ग्रहण करने के लिए सन 1972 में चार्ली (Charlie Chaplin) ने अमेरिका की यात्रा की | 25 दिसम्बर 1977 की सुबह को इस महान कलाकार की मृत्यु हो गयी |

BiographyHindi.com के जरिये प्रसिद्ध लोगो की रोचक और प्रेरणादायक कहानियों को हम आप तक अपनी मातृभाषा हिंदी में पहुचाने का प्रयास कर रहे है | इस ब्लॉग के माध्यम से हम ना केवल भारत बल्कि विश्व के प्रेरणादायक व्यक्तियों की जीवनी से भी आपको रुबुरु करवा रहे है

1 COMMENT

  1. बहुत ही शानदार | इसी प्रकार लिखते रहिये और हम जैसे लोगो को प्रेरित करते रहिये |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here