Hillary Clinton Biography in Hindi | हिलरी क्लिंटन की जीवनी

Hillary Clinton Biography in Hindi

Hillary Clinton Biography in Hindi

डोरोथी एवं हग रोड्म की पहली सन्तान हिलरी डायने रोडम का जन्म 26 अक्टूबर 1947 में हुआ था | हिलेरी का बचपन इलिनयोस में काफी प्रसन्न तथा अनुशासन पूर्ण था | उन्हें खेल तथा चर्च विशेष रूप से प्रिय थे | वे छात्र नेता थी और नेशनल ओनर सोसाइटी की सदस्या थी | माता-पिता ने उन्हें कड़े परिश्रम से पढने एवं अपनी पसंद का कोई भी करियर चुनने के लिए प्रोत्साहित किया |

वेलेस्ली कॉलेज में पढ़ते हुए हिलेरी ने शैक्षिक योग्यता एवं स्कूल प्रशासन का मेल सीखा | 1969 में उन्होंने येल लॉ स्कूल में दाखिला लिया , जहा उन्होंने येल लॉ रिव्यू तथा सोशल एक्शन के बोर्ड ऑफ़ एडिटर्स के साथ काम किया | वही उनकी भेंट बिल क्लिंटन से हुयी | पुस्तकालय में अक्सर दोनों की भेंट होती , वही उन्होंने पहली बार बातचीत भी की | इसके बाद वे राजनितिक अभियानों में भी साथ दिखने लगे | ग्रेजुएशन के बाद वे Children Defence Fund से जुड़ गयी तथा क्लिंटन अपने राजनितिक करियर में व्यस्त हो गये |

1975 में विवाह के पश्चात हिलेरी ने अरकानसकस लॉ स्कूल विश्वविद्यालय में अध्यापक हुयी | 1978 में उन्हें प्रेसिडेंट जिमी कार्टर ने बोर्ड ऑफ़ लीगल सर्विस कारपोरेशन में नियुक्त किया तथा क्लिंटन अरकासस के गर्वनर बने | 1980 में उनकी पुत्री चेल्सी का जन्म हुआ | परिवार , कानून एवं सार्वजनिक सेवा – हिलेरी ने बखूबी इन सभी क्षेत्रो को एक साथ सम्भाला | वे अरकानसस एडवोकेट फॉर एजुकेशनल स्टैण्डर्ड कमेटी की सभापति बनी | नेशनल हेल्थ केयर रिफार्म से जुड़ने के बाद तो वे ओर भी सक्रिय हो गयी |

फर्स्ट लेडी के रूप में अपने अनुभव बांटने के लिए उन्होंने “Talking It Over” नामक स्तम्भ लिखा | उन्होंने कुछ पुस्तके भी लिखी जिनकी रिकॉर्डिंग पर उन्हें ग्रेमी पुरुस्कार से सम्मानित किया गया | यधपि सार्वजनिक गतिविधिया कई बार विवादों का केंद्र रही किन्तु समर्थको की भी कमी नही थी | वे महिलाओं तथा बच्चो के मुद्दों में वचनबद्ध रही | 07 नवम्बर 2000 को वे न्यूयॉर्क की सीनेटर चुनी गयी | 2008 और 2016 में वो अमेरिका राष्ट्रपति का चुनाव भी लड़ी लेकिन उनका अमेरिका की पहली महिला राष्ट्रपति बनने का सपना पूरा न हो सका |

Leave a Reply