John Logie Baird Biography in Hindi | टीवी के जन्मदाता जॉन लोगी बेयर्ड की जीवनी

0
459
John Logie Baird Biography in Hindi | टीवी के जन्मदाता जॉन लोगी बेयर्ड की जीवनी
John Logie Baird Biography in Hindi | टीवी के जन्मदाता जॉन लोगी बेयर्ड की जीवनी

टेलीविजिन ने आज सारी दुनिया में तहलका मचा रखा है | श्याम-श्वेत और रंगीन टीवी की आज बाढ़ सी आ गयी है | दुनिया के किसी भी कोने में होने वाली घटना का हमे पल भर में पता चल जाता है | यह संसार और मनोरंजन का एक जाना माना साधन बन गया है | टीवी के विकास में महानतम योगदान देने वाले महान वैज्ञानिक थे जॉन लोगी बेयर्ड (John Logie Baird) | यह पहले व्यक्ति थे जिन्होंने ग्रेट ब्रिटेन में टीवी संदेशो का सन 1926 में सफल प्रसारण किया था |

जॉन लोगी बेयर्ड (John Logie Baird) का जन्म 13 अगस्त 1888 को हैल्न्स्बर्ग में हुआ था | बेयर्ड को बचपन से ही कठिनाइयो का सामना करना पड़ा था | इनके पिता शिक्षित तो थे लेकिन उनकी आमदनी काफी कम थी | स्कूल जाने से पहले का सारा समय इन्होने एक माली के लडके के साथ बिताया | इनकी शिक्षा पास के ही स्कूल में हुयी | उस सस्कूल में फोटोग्राफी पर काफी ध्यान दिया जाता था | इनकी फोटोग्राफी में इतनी रूचि थी कि वो अपने स्कूल में फोटोग्राफी जे अध्यक्ष बन गये |

यह बालक इतना चतुर था कि 12 वर्ष की उम्र में ही इन्होने अपने मित्रो की सहायता से एक टीवी लाइन बनाई और अपनी छत वाले कमरे को अपने साथियों के चार घरो से जोड़ दिया | स्कूल छोड़ने के बाद बेयर्ड ने रॉयल टेक्सोली में अध्ययन किया | इनका स्वास्थ्य ठीक नही रहता था इसलिए इनकी पढाई ढंग से नही हो पाई | 26 वर्ष की उम्र में इन्होने नौकरी कर ली | प्रथम विश्वयुद्ध समाप्त होने पर इन्होने मोज़े बनाने शुरू किया |

सन 1922 में जब बेयर्ड (John Logie Baird) लन्दन वापस पहुचे तो उनकी उम्र 34 वर्ष हो चुकी थी | इन्ही दिनों इन्होने टीवी बनाने की रुपरेखा बनाई | इन्होने टूटे फूटे उपकरणों से सन 1924 एक छाया को तीन गज की दूरी पर प्रसारित करने में सफलता प्राप्त की | सन 1925 के 2 अक्टूबर को उनके जीवन में एक रोमांचकारी घटना घटी | बेयर्ड (John Logie Baird) ने अपने उपकरणों में प्रकाश को विद्युत में बदलने में एक नई चीज लगाई | जब उन्होंने अपने उपकरण का स्विच दबाया तो उसमे एक दृश्य का चित्र उभर आया | इसे देखकर उनकी खुशी का ठिकाना नही रहा |

सन 1925 में उन्होंने मानव चेहरे का प्रसारण किया |  सन  1926 में उन्हें टीवी चित्रों के प्रेषण में महान सफलता मिली | सन 1936 में BBC ने बेयर्ड द्वारा बनाये गये टीवी उपकरण से प्रसारण सेवा आरम्भ की | उन्ही दिनों मारकोनी द्वारा विकसित तरीका अधिक प्रसिद्ध हो गया था | इस तरीके ने बेयर्ड (John Logie Baird) के तरीको को पराजित कर दिया | सारे जीवनभर टीवी सम्बधी अनुसन्धानो में बेयर्ड लगे रहे | सन 1945 तक रंगीन टीवी के क्षेत्र में काफी काम हो चूका था | सन 1946 में उनका देहांत हो गया | यह महान अविष्कारक अपने जीवन भर कार्य करने पर भी कोई बड़ा सम्मान प्राप्त नही कर पाया |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here