Prakash Padukone Biography in hindi | प्रकाश पादुकोण की जीवनी

Prakash Padukone Biography in hindi | प्रकाश पादुकोण की जीवनी

Prakash Padukone Biography in hindi | प्रकाश पादुकोण की जीवनी

जाने माने बैडमिंटन खिलाड़ी प्रकाश पादुकोण (Prakash Padukone) सन 1955 ई. में जन्मे थे | डेनमार्क में प्रशिक्षण के दौरान उनके खेल में ओर अधिक निखार आ गया | उन्होंने 6 वर्षो तक डेनमार्क में प्रशिक्षण प्राप्त किया तत्पश्चात वे भारत आ गये | नन्दू नाटेकर के बाद उन्होंने भारतीय बैडमिंटन की पताका पहली बार अंतर्राष्ट्रीय ऊँचाईयों तक फहराया | प्रकाश पादुकोण (Prakash Padukone) ने सन 1970 के दशक के अंत तथा सन 1980 ई. के आरम्भ में कई खिलाडियों को पराजित किया | वे राष्ट्रमंडलीय चैंपियन बने और आल इंडिया चैंपियनशिप जीतकर उन्होंने अपना नाम खेल के इतिहास में सुनहरे अक्षरों में लिखा लिया |

प्रकाश नौ बार लगातार चैंपियन बने | वे सन 1971 ई.से 1979 ई. तक अपराजित रहे | मूल रूप से प्रकाश पादुकोण (Prakash Padukone) एक रक्षात्मक खिलाड़ी थे | सन 1980 ई. की आल इंग्लैंड चैंपियनशिप में भी उन्होंने लिम स्विकिंग जैसे तेज तरार आक्रामक खिलाड़ी को अपने रक्षात्मक हथकंडो से ही छकाया था | उन्होंने अपना इरादा फाइनल शुरू होने से पूर्व साफ़ कर दिया था | उन्होंने शटल काक को ज्यादा देर तक हवा में रखने की कोशिश की जिसमे लिम स्विकिंग अपने स्मैशो का प्रयोग नही कर पाए | प्रकाश खेल को काफी नियंत्रित रूप से खेलते थे | उन दिनों प्रकाश की खेल कला अपनी उंचाइयो पर थी |

तत्पश्चात मशहूर बैडमिंटन खिलाड़ी प्रकाश (Prakash Padukone) के खेल में दम-खम का अभाव पाया जाने लगा | वे कई प्रतियोगिताओं के पहले ही चक्रो में अच्छा खेले परन्तु बाद के मस्य वे सामान्य खिलाडियों से भी हारने लगे | उसके बाद भी अपने रिकॉर्ड और खेल की बदौलत प्रकाश पादुकोण नये खिलाडियों के लिए प्रेरणा स्त्रोत बने रहेंगे |

Leave a Reply