Sergey Brin Biography in Hindi | सर्गी ब्रिन की जीवनी

0
175
Sergey Brin Biography in Hindi | सर्गी ब्रिन की जीवनी
Sergey Brin Biography in Hindi | सर्गी ब्रिन की जीवनी

सर्गी मिखायलोविच ब्रिन (Sergey Brin) एक रूसी मूल के अमेरिकी कंप्यूटर वैज्ञानिक है जिन्होंने लैरी पेज के साथ मिलकर गूगल सर्च इंजन तैयार किया और गूगल इंक नामक कम्पनी की स्थापना की | कम्प्यूटर व्यवसायी और कम्पुटर वैज्ञानिक सरगी ब्रिन (Sergey Brin) का जन्म 21 अगस्त 1973 को रूस की राजधानी मास्को में हुआ था | उनके पिता रूसी गणितज्ञ और अर्थशास्त्री थे | यहूदी उत्पीडन से बचने के लिए सन 1979 में उनका परिवार संयुक्त राज्य अमेरिका आकर बस गया | उस समय सर्गी छह साल के थे |

आरम्भिक पढाई के बाद उन्होंने मैरीलैंड यूनिवर्सिटी , कॉलेज पार्क , वाशिंगटन डीसी में गणित और कम्प्यूटर विज्ञान में डिग्री प्राप्त की और स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी मिशिगन में दाखिला ले लिया ,जहा उनकी मुलाक़ात लैरी पेज से हुयी | दोनों ने कम्प्यूटर विज्ञान में साथ साथ पी.एच.डी. की | यही  दोनों ने एक सर्च इंजन पर काम किया जो लोकप्रियता के क्रम में पेज ढूंढता है | बाद में इसके विकसित रूप को 1998 में गूगल नाम से लांच किया गया |

अपने परिवार , मित्रो और निवेशको से 10 लाख डॉलर उधार लेकर 1998 में सर्गी एवं लैरी ने गूगल इंक नामक कम्पनी बनाई | सन 2004 में कम्पनी को शेयर बाजार में रजिस्टर कराया गया और इसने दोनों को अरबपति उद्योगपति बना दिया | सन 2006 में कम्पनी ने 165 अरब डॉलर में Youtube को खरीद लिया | मार्च 2013 में ब्रिन (Sergey Brin) को फ़ोर्ब्स की अरबपतियो की सूची में 21वा स्थान हासिल हुआ | आज ब्रिन गूगल की ख़ास परियोजनाओं के डायरेक्टर है |

उन्होंने सारी दुनिया की जानकारी को बस एक क्लिक जितना आसान बना दिया | अब लोगो को भारी-भरकम किताबो का झोला साथ लेकर चलने की जरूरत नही है अपने मोबाइल फोन पर भी वे दुनिया भर की जानकारी को गूगल के माध्यम से पलक झपकते प्राप्त कर सकते है | आज गूगल की तुलना जोहानस गुटनबर्ग से की जाती है जो आधुनिक मुद्रण के अविष्कारक थे | सन 1440 में जोहानस गुटनबर्ग ने यूरोप में मशीनी प्रिंटिंग प्रेस की शुरुवात की | इस प्रणाली से पांडूलिपियों का तेजी से मुद्रण आरम्भ हुआ , गूगल ने भी कुछ इसी प्रकार का काम किया |

ब्रिन (Sergey Brin) और लैरी को सामूहिक रूप से अनेक पुरुस्कार और सम्मान प्राप्त हुए , जिनमे नेशनल एकेडमी ऑफ़ इंजीनियरिंग की सदस्यता , मार्कोनी फाउंडेशन पुरुस्कार , टेक्निकल एक्सीलेंस पुरुस्कार , बेबी पुरुस्कार इत्यादि शामिल है |नवम्बर 2009 में फ़ोर्ब्स ने ब्रिन (Sergey Brin) को दुनिया का पांचवा शक्तिशाली व्यक्ति माना | वर्ष 2010 में 175 अरब डॉलर की निजी सम्पति के साथ वे दुनिया के 24वे सबसे अमीर व्यक्ति थे | आज भी ताकत और धन मे वे दुनिया के श्रेष्ट 50 व्यक्तियों में शामिल है | The Economist पत्रिका ने बिन को एक ज्ञानी पुरुष के रूप में संदर्भित किया है और उन्हें ऐसा व्यक्ति बताया है जो मानता है कि ज्ञान हमेशा अच्छा होता है और निश्चित रूप से अज्ञानता से बेहतर होता है |

BiographyHindi.com के जरिये प्रसिद्ध लोगो की रोचक और प्रेरणादायक कहानियों को हम आप तक अपनी मातृभाषा हिंदी में पहुचाने का प्रयास कर रहे है | इस ब्लॉग के माध्यम से हम ना केवल भारत बल्कि विश्व के प्रेरणादायक व्यक्तियों की जीवनी से भी आपको रुबुरु करवा रहे है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here