अभिनेता अक्षय कुमार की जीवनी | Akshay Kumar Biography in Hindi

1
162
अभिनेता अक्षय कुमार की जीवनी | Akshay Kumar Biography in Hindi
अभिनेता अक्षय कुमार की जीवनी | Akshay Kumar Biography in Hindi

अक्षय कुमार (Akshay Kumar) का जन्म अमृतसर में एक सिन्धी परिवार में हुआ था | उनके पिता का नाम हरीओम भाटिया और माँ का नाम अरुणा भाटिया है | उनके पिता एक मिलिट्री अफसर थे | बचपन से ही अक्षय कुमार (Akshay Kumar) को डांस का शौक था | अक्षय कुमार का बचपन दिल्ली के चांदनी चौक में गुजरा और बाद उनका परिवार मुम्बई शिफ्ट हो गया | अक्षय ने पानी प्रारम्भिक शिक्षा डॉन बोस्को स्कूल से की और बाद में उच्च शिक्षा के लिए खालसा कॉलेज में प्रवेश लिया लेकिन एक साल बाद ही कॉलेज छोडकर मार्शल आर्ट्स सीखने के लिए बैंकाक चले गये |

बैंकाक में मार्शल आर्ट्स सीखकर उन्होंने टीकवोंड़ो में ब्लैक बेल्ट हासिल किया और थाईलैंड में रहते हुए ही मुए-थाई सीखा और वही पर उन्होंने शेफ और वेटर के तौर पर काम भी किया | मुम्बई लौटने पर अक्षय में मार्शल आर्ट्स सीखाना शूर कर दिया | मार्शल आर्ट्स के उनके एक विद्यार्थी ने जो फोटोग्राफर था ने अक्षय कुमा रको मॉडलिंग करने की सलाह दी | अक्षय कुमार ने तब मॉडलिंग शुरू की और शूटिंग के पहले दो दिनों में ही पुरे महीने की सैलरी निकाल दी इसलिए उन्होंने मॉडलिंग करियर चुन लिया |

18 महीनों तक उन्होंने जयेश सेठ के यहाँ सहायक फोटोग्राफर के तौर पर बिना किसी सैलरी के काम किया ताकि वो अपना पहला पोर्टफोलियो शूट कर सके | इसके बाद उन्होंने कई फिल्मो में बैकग्राउंड डांसर के तौर भी काम किया | एक सुबह विज्ञापन के शूट के लिए उनको बंगलौर जाना था लेकिन उनकी फ्लाइट मिस हो गयी | निराश होकर वो अपने पोर्टफोलियो के साथ एक फिल्म स्टूडियो में गये | उसी शाम उनको प्रमोद चक्रवती की फिल्म दीदार में लीड रोल के लिए चुन लिया गया |

अक्षय कुमार का फ़िल्मी करियर

अक्षय कुमार (Akshay Kumar) को दीदार फिल्म के लिए सबसे पहले लीड रोल के लिए चुना गया था लेकिन अक्षय कुमार की बतौर लीड रोल रिलीज़ हने वाली पहली फिल्म सौगंध (1991) थी | इसके बाद उसी साल उन्होंने किशोर व्यास की फिल्म डांसर में काम किया जो असफल रही | अगले ही वर्ष अक्षय ने अब्बास-मस्तान की सस्पेंस थ्रिलर फिल्म खिलाड़ी में काम किया जिससे उनको बॉलीवुड में नई पहचान मिली | इसके बाद 1992 में जेम्स बांड के जीवन पर आधारित फिल्म मिस्टर बांड में एक जासूस का किरदार निभाया | 1992 की उनकी आखिरी फिल्म दीदार थी हो बॉक्स ऑफिस पर पिट गयी |

1993 में अक्षय (Akshay Kumar )ने केशु रामसे की फिल्म अशांत में काम किया | इसके बाद 1993 में रिलीज़ उनकी सारी फिल्म जैसे दिल की बाजी , कायदा कानून , वक्त हमारा है और सैनिक अच्छा व्यापर नही कर पायी | 1994 में अक्षय ने दो फिल्म में पुलिस इंस्पेक्टर का किरदार निभाया पहली मै खिलाड़ी तू अनाडी और दुसरी मोहरा | दोनों ही फिल्म ना केवल सुपरहिट रही बल्कि उस साल की सबसे ज्यादा कमाऊ फिल्मे बनी | इसी साल के अंत तक ये दिल्लगी में काजोल के साथ काम किया | इस फिल्म में उनके रोल के लिए पहली बार उन्हें फिल्मफेयर बेस्ट एक्टर के लिए नामांकित किया गया | इसी साल उन्होंने सुहाग और एलान फिल्म में काम किया और दोनों ही सफल रही | अपनी सफलताओं के बल पर 1994 के सबसे सफल अभिनेता बने जिनकी 11 फिल्मे आयी |

1995 में उमेश महरा की सबसे बड़ा खिलाड़ी में अभिनय किया जिसने अच्छा व्यापार किया | खिलाड़ी सीरीज में उन्हें काफी सफलता मिली इसलिए उन्होंने खिलाड़ी सीरीज की चौथी फिल्म खिलाडियों का खिलाड़ी में अभिनय किया जिसने ना केवल अच्छा व्यापार किया बल्कि सुपरहिट भी रही | इस फिल्लम के दौरान उनको चोट भी लगी थी और अमेरिका में उन्होंने इलाज भी करवाया | 1997 में दिल दो पागल में अक्षय ने सहायक अभिनेता का रोल किया | इसी साल खिलाड़ी सीरीज की पांचवी फिल्म Mr. and Mrs. Khiladi में काम किया हालांकि ये इतनी सफल नही रही | 1999 में इंटरनेशनल खिलाड़ी ने औसत व्यापार किया | इसके बाद संघर्ष और जानवर ने उनके अभिनय को काफी सराहा गया |

2000 की शुरुवात उनकी काफी अच्छी रही उअर प्रियदर्शन की कॉमेडी फिल्म हेराफेरी में उनका अभिनय लाजवाब और यादगार रहा | इसके बाद धडकन फिल्म में उनका संजीदा किरदार सबको पसंद आया | इसके बाद खिलाड़ी 420 में अक्षय ने फिल्म में कई लाजवाब स्टंट किये | 2001 में आयी ड्रामा फिल्म एक रिश्ता में उनके अभिनय की प्रशंसा हुयी | इसके बाद अब्बास-मस्तान की अजनबी फिल्म में उन्होंने नेगेटिव रोल निभाया | 2002 में हाँ मैंने भी प्यार किया में उन्होंने रोमांटिक किरदार निभाया | इसी साल आँखे फिल्म में अंधे चोर का किरदार निभाया | विक्रम भट्ट की आवारा पागल दीवाना में उनकी कॉमेडी को खूब सराहा गया | इस साल उनकी आखिरी फिल्म जानी दुश्मन फ्लॉप रही | 2003 में तलाश फिल्म में अक्षय ने संजीदा किरदार निभाया | इसके बाद अंदाज में उन्होंने प्रियंका चोपड़ा और लारा दत्ता के साथ काम किया| 2004 में उनकी फिल्म खाकी सफल रही | 2006 में उनकी फिर हेराफेरी बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट रही |

अक्षय कुमार का व्यक्तिगत जीवन 

अक्षय कुमार (Akshay Kumar) ने राजेश खन्ना की बेटी ट्विंकल खन्ना से 17 जनवरी 2001 को विवाह किया | उनके दो बच्चे एक लड़का आरव और एक लडकी नितारा है | अक्षय अपने बच्चो को हमेशा मीडिया से दूर रखते है ताकि वो सामान्य जिन्दगी जी सके | अक्षय कुमार अपने आप को फिट रखने के लिए किकबॉक्सिंग , बास्केटबाल ,स्विमिंग और जिम करते है | 2004 में बॉलीवुड में उनके योगदान के लिए उन्हें राजीव गांधी पुरुस्कार से सम्मानित किया गया |

BiographyHindi.com के जरिये प्रसिद्ध लोगो की रोचक और प्रेरणादायक कहानियों को हम आप तक अपनी मातृभाषा हिंदी में पहुचाने का प्रयास कर रहे है | इस ब्लॉग के माध्यम से हम ना केवल भारत बल्कि विश्व के प्रेरणादायक व्यक्तियों की जीवनी से भी आपको रुबुरु करवा रहे है

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here